Computer kya hai hindi mein | computer kise kahte hai

Computer kya hai और कंप्यूटर की विशेषताएं क्या हैं।

आप सभी ने सुना होगा कि Computer ka upyog लगभग हर क्षेत्र में किया जा रहा है। जहां देखो वहां कंप्यूटर ही कंप्यूटर|ऐसे में हमारे मन में सबसे पहला सवाल आता है कि Computer kya haiऔर कंप्यूटर की विशेषताएं क्या हैं। और ऐसी क्या खूबियां है कंप्यूटर में जिसकी वजह से यह  हर जगह इस्तेमाल होता है, आज इस ब्लॉग को पढ़कर अगले कुछ मिनटों में आप पूरी तरह समझ जाएंगे कि कंप्यूटर क्या होता है, इसकी क्या विशेषताएं हैं| तो चलिए बिना आपका समय बर्बाद किए हुए आपको बताते हैं कि कंप्यूटर क्या है।

Computer एक Electronic Device होता है, हां हां हम जानते हैं कि हमारे विवर को यह जानकारी है कि Computer एक electronic device होता है, पर हमारे कुछ दूसरे viewers के मन में अक्सर यह सवाल उठता है कि यह दूसरे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज से कैसे अलग है|

मैं आप सभी को यह बताना चाहूंगा कि Computer एक electronics device  है जैसे कि बाकी सभी  इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज पर यह एक डाटा प्रोसेसर है, यह डाटा को प्रोसेस करके हमें उसका रिजल्ट देता है इसलिए इसका एक दूसरा नाम डाटा प्रोसेसर भी है, इसके द्वारा हम जब चाहे डाटा को स्टोर, प्रोसेस और रीट्राइव कर सकते हैं। और Charles Babbage (चार्ल्स बैबेज) को Father of Computer कहा जाता है।

हम यह भी कह सकते हैं कि  कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो इनपुट के रूप में डेटा लेता है, उसे प्रोसेस करता है और परिणाम (जानकारी) आउटपुट के रूप में देता है।

उदाहरण के लिए जिस प्रकार हमें गन्ने का रस पीने के लिए गन्ने को उसके मशीन में डालकर निचोड़ना पड़ता है और उसके पश्चात जो हमें रस मिलता है वह हमारा रिजल्ट होता है, उसी प्रकार कंप्यूटर भी हमारी मदद करता है एक डाटा को प्रोसेस करके उसका रिजल्ट देने में.

कंप्यूटर डेटा को इनपुट प्रक्रिया के रूप में लेता है और हमें आउटपुट के रूप में परिणाम देता है| Computer System Hardware और Software से बना है।

Computer input, processing और output units की एक संरचना है। computer एक Program करने योग्य मशीन है जो निर्देशों के एक विशिष्ट सेट के लिए एक अच्छी तरह से परिभाषित तरीके से प्रतिक्रिया करता है।

Computer एक ग्रीक शब्द “गणना” से बना है जिसका अर्थ है “के लिए परिकलित (हिसाब करना)” । इसलिए कंप्यूटर एक मशीन है जो गणना (हिसाब) करता है । यह डेटा प्रोसेसर के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि आज यह न केवल अंकगणित और तर्क आपरेशनों की गणना करता है, लेकिन यह डेटा के विभिन्न अन्य प्रकार पर प्रक्रिया और हर जगह में इस्तेमाल किया जाता है।

 

Computer की विशेषताएं Features of Computer in Hindi

आज कंप्यूटरों की बढ़ती लोकप्रियता ने साबित कर दिया है कि यह एक बहुत शक्तिशाली और उपयोगी उपकरण है। इस लोकप्रिय उपकरण की उपयोगिता की शक्ति मुख्य रूप से इसकी निम्नलिखित विशेषताओं के कारण है।

 

  • स्वचालन (automation)
  • गति( good speed)
  • शुद्धता (accuracy)
  • इसका परिश्रम(diligence)
  • इसकी बहुमुखी प्रतिभा (versatility)
  • याद रखने की शक्ति(memory power)
  • कोई अहसास नहीं (without any feelings)
  • सोचने समझने की शक्ति ना होना (no I.Q)

 

स्वचालन (Automation)

Computer के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि निर्देश दिए जाने के बाद यह अपने आप काम करता है| कंप्यूटर को एक बार अगर कोई काम दे दिया जाए तो जब तक वह काम समाप्त नहीं होता तब तक वह उसे करता ही रहता है बिना किसी मानव के निर्देश द्वारा।

 

गति( Good Speed)

क्या आपको पता है विश्व का सबसे तेज इंसान कौन है? जी हां यहां मैं बात कर रहा हूं विश्व में सबसे तेज दौड़ने वाले उसैन बोल्ट की, जो कि मात्र 9.58 सेकंड में 100 मीटर की दूरी और मात्र 19.19 सेकेंड्स में 200 मीटर की दूरी की रेस को दौड़ सकते हैं। जो कि किसी आम इंसान के लिए काफी मुश्किल है।

Computer Kya hai

और अगर जानवरों की बात करें तो सबसे तेज इस धरती पर दौड़ने वाला जानवर है चिता जो कि 120.7 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकता है वहीं अगर बात करें सबसे तेज उड़ने वाले पक्षी की तो वह है peregrine falcon जो कि 389 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकती है, पर क्या होगा जब हम बात करें किसी मशीन की जो इन सभी आंकड़ों से कहीं ज्यादा तेज हो।

जी हां कंप्यूटर एक बहुत तेज चलने वाला उपकरण है जो कि बड़े-बड़े काम को कुछ सेकेंड में ही निपटा देता है जिन कामों के लिए इंसान पूरा साल लगा सकते हैं उन कामों को कंप्यूटर कुछ सेकंड्स में ही कर सकता है और अगर मैं बात करूं पूरे जीवन की तो एक इंसान जितना काम अपने पूरे जीवन में कर सकता है उतना काम कंप्यूटर कुछ मिनटों में कर सकता है।

अभी से कुछ दशक पहले तक हम कंप्यूटर की रफ्तार को माइक्रोसेकंड में मापा करते थे लेकिन आज के समय में आधुनिक कंप्यूटर की रफ्तार को हम पिकोसेकंड की रफ्तार से मापा करते हैं जो कि (10-12) पिकोसेकंड की रफ्तार से चलती है, जो कि सच में बहुत ज्यादा है बहुत ही ज्यादा।

 

शुद्धता (Accuracy)

ज्यादा काम का प्रेशर होने के कारण अक्सर हमसे काम करने में काफी सारी गलतियां हो जाती हैं मगर ऐसा कंप्यूटर के साथ नहीं होता है, एक कंप्यूटर अपने सभी कार्यों को सही ढंग से पूरा करने में सक्षम है, अगर कंप्यूटिंग में कोई गलती है, तो यह कंप्यूटर के बजाय मानव के कारण है। आधुनिक कंप्यूटर तकनीक का पता लगाने के साथ आता है जिसके द्वारा गलतियों का पता लगाया जा सकता है और आसानी से ठीक किया जा सकता है। ऑपरेटर डेटा प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और ऑपरेटर का ध्यान भटकने के कारण ही कई बार गलतियां होती हैं क्योंकि कंप्यूटर से गलती होने का कोई सवाल ही नहीं है|

इसका परिश्रम(Diligence)

हम इंसानों के शरीर की बनावट कुछ ऐसी होती है कि कुछ मेहनत वाला काम करने के बाद हमें आराम करने की जरूरत पड़ती है अगर हम आराम नहीं करेंगे तो हम बीमार पड़ सकते हैं, मगर कंप्यूटर में ऐसा न कुछ भी नहीं होता है कंप्यूटर लगातार घंटों काम कर सकता है जो कि इंसान नहीं कर सकता है वही इंसान का काम करने के समय काफी ध्यान भटकता है जो कि कंप्यूटर में नहीं होता यह भी एक बहुत बड़ा कारण है जिसके कारण आज कंप्यूटर अरे क्षेत्र में इस्तेमाल किया जा रहा है|

 

इसकी बहुमुखी प्रतिभा (Versatility)

हम सभी जानते हैं आज के इस दौर में वही इंसान सफल है जो कि बहुत सारे काम को एक साथ एक समय पर कर सकता है, परंतु क्या यह सभी के लिए संभव है और क्या सभी इंसान बहुत सारे काम को एक साथ सटीकता और निरंतर गति के साथ कर सकते हैं शायद नहीं, पर कंप्यूटर यह कर सकता है| कंप्यूटर बहुत सारे टास्क को एक साथ परफॉर्म करने में सक्षम होता है वह सभी काम को सटीकता और एक्यूरेसी के साथ परफॉर्म करता है जहां पर कि उसकी स्पीड भी कम नहीं होती है|

 

याद रखने की शक्ति(Memory Power)

हम सभी ने अब तक अपने बचपन से लेकर के अभी तक बहुत कुछ सीखा बहुत कुछ सुना बहुत कुछ पढ़ा और क्या हम सभी को वह सभी चीजें याद रहती हैं जी हां हम सभी को वह सभी चीजें याद नहीं रहती हैं इसका कारण यह है कि हमारा जो दिमाग है वह बस जरूरी की चीजों को ही हमारे दिमाग में रखता है और बाकी की सभी चीजों को हटा देता है पर क्या हो जब कोई जरूरी चीज हमारे दिमाग से हट जाए यानी कि कोई ऐसी चीज जिसकी हमें भविष्य में जरूरत पड़ने वाली हो और हम उसे भूल जाएं|

अक्सर हमारे साथ ऐसा होता है कि हमारी परीक्षा से पहले हम जो भी अपनी तैयारी करते हैं उसे हम परीक्षा के दौरान भूल जाते हैं जिसके कारण हम उसे अपनी परीक्षा में नहीं लिख पाते हैं और हमारे नंबर भी कमाते हैं और क्या हो जब कोई कंप्यूटर अपना एग्जाम देने जाए क्या वह भी चीजें भूलेगा जी नहीं ऐसा नहीं हो सकता कंप्यूटर की यह खासियत उसे बहुत कंप्यूटर की यह खासियत उसे हम इंसानों से बहुत ज्यादा आगे बनाती है बहुत ज्यादा शक्तिशाली बनाती है।

एक बार जब हमने कोई भी डाटा कंप्यूटर में सेव कर दिया उसके बाद फिर हम उसे भविष्य में कभी भी वापस पा सकते हैं जब तक हम स्वयं उसको कंप्यूटर के दिमाग से उसकी मेमोरी से डिलीट ना करें तब तक वह डाटा उसकी मेमोरी में वैसे ही पड़ा रहता है यह कुछ ऐसा ही है कि अगर आपने आज अपने कंप्यूटर में कोई डाटा डाला है तो आपके नाती पोता भी आपके जाने के बाद उस डाटा को इस्तेमाल कर सकते हैं उसे देख सकते हैं परंतु हम इंसानों के केस में ऐसा कुछ नहीं होता है इसलिए भी हम कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि यह मेमोरी पावर में हम इंसानों से काफी बेहतर होता है।

 

कोई अहसास नहीं (Without Any Feelings)

अब तक हमने कंप्यूटर के बहुत सारे विशेषताओं के बारे में जाना जहां पर कि कंप्यूटर हम इंसानों से कहीं ज्यादा बेहतर है परंतु क्या हो जब मैं कहूं कि कंप्यूटर कुछ मामलों में हमारे हमसे बहुत नीचे है जी हां जिस प्रकार हम इंसानों को हर एक चीज का एहसास होता हम चीजों को महसूस कर सकते हैं उसी प्रकार कंप्यूटर किसी भी चीज को महसूस नहीं कर सकता उसमें किसी भी चीज को एहसास करने की क्षमता नहीं होती है जिसको हम कंप्यूटर की कमी भी कह सकते हैं।

 

सोचने समझने की शक्ति ना होना (No I.Q)

हम इंसानों का दिमाग हमारे लिए किसी वरदान से कम नहीं है, क्योंकि हम सोचने और समझने में सक्षम हैं हम सभी चीजों को सोच समझकर के करते हैं परंतु Computer में ऐसा कुछ नहीं, होता कंप्यूटर किसी भी चीज को ना सोच सकता है ना समझ सकता है।

मोटे तौर पर कहूं तो कंप्यूटर बेवकूफ होता है उसमें अपना कोई भी दिमाग नहीं होता है वह किसी और पर पूरी तरह से निर्भर होता है अगर हम उसे कोई आदेश ना दे तो वह कुछ भी नहीं कर सकता और अगर हम उसे आदेश दें कि वह खुद को बर्बाद कर ले तो वह खुद को बर्बाद कर लेगा जबकि हमारे साथ ऐसा अगर कोई करे तो हम एक दो बातों का ख़ास हो जाएंगे इसे आप इसकी खासियत कहें या फिर इसकी कमी पर यही कुछ कारण है जिसकी वजह से कंप्यूटर हमें हमारे रोजमर्रा की जिंदगी में काफी मदद करती है और वही अगर हम इसकी सोचने समझने की शक्ति की बात करें तो वह तो बिल्कुल भी नहीं होती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.